Home / News / सालों पुरानी दुश्मनी का बदला लेने के लिए दोहराई गई वही खौफनाक कहानी

सालों पुरानी दुश्मनी का बदला लेने के लिए दोहराई गई वही खौफनाक कहानी

सीकर. दांतारामगढ़।(बलजिंदर सिंघ मोरजण्ड ) जयपुर के कालवाड़ से सोमवार शाम पिता पुत्र का अपहरण कर पुत्र की हत्या कर दी गई Sikarऔर पिता के हाथ पैर तोड़कर फेंक दिया गया। बेटे का शव मंगलवार सुबह दांतारामगढ़ थाना क्षेत्र में चंदेली का बास के पास मिला। वहीं पिता अधमरी हालत में रेनवाल के पास स्थित प्रतापुरा गांव के बाहर मिला।   मामला आपसी रंजिश का बताया जा रहा है। फिलहाल कालवाड़ पुलिस ने अपहरण व हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है और शव को दांतारामगढ़ अस्पताल मोर्चरी में रखवाया है। दांतारामगढ़ एसएचओ मंगलाराम ने बताया कि मंगलवार सुबह बावड़ी से चंदेली का बास जाने वाली रोड पर एक युवक का शव मिला। सूचना पर एसपी सत्यवीर सिंह, डीएसपी सुनील कुमार व दांतारामगढ़ पुलिस मौके पर पहुंचे।   युवक की तलवारों से वार कर हत्या की गई थी। उसकी शिनाख्त मंढा भीम सिंह निवासी करण पुत्र बोदूराम रैगर के रूप में हुई। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि करण का परिवार फिलहाल कालवाड़ में ही रहा है। सोमवार शाम करण व उसके पिता बोदूराम का कालवाड़ बस स्टैंड से अपहरण किया गया था।  इसका मुकदमा भी कालवाड़ थाने में दर्ज हुआ था। अपहरणकर्ताओं ने बोदूराम को प्रतापुरा के पास पटक दिया और करण की हत्या कर दी। सूचना पर कालवाड़ पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। बुधवार को शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। इस संबंध में बोदूराम रैगर ने बिंदायका जेडीए कॉलोनी निवासी रामसिंह राठौड़ व अन्य लोगों के खिलाफ उसके पुत्र का अपहरण कर हत्या करने का मामला दर्ज कराया है। पुलिस के अनुसार कर्ण रैगर ने कुछ वर्ष पूर्व करधनी थाना इलाके के बिन्दायका जेडीए कॉलोनी निवासी रामसिंह राठौड़ के आठ वर्षीय पुत्र की हत्या कर दी थी जिसके बाद कर्ण रैगर जेल में था। पिछले माह ही वह जेल से जमानत पर छूटा था। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी है। बुधवार को शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। ॥युवक की धारदार हथियारों से हत्या की गई है। कालवाड़ से पिता पुत्र का अपहरण हुआ था। वहीं पर मुकदमा दर्ज हुआ है। मामले की जांच कालवाड़ पुलिस कर रही है। सत्यवीर सिंह, एसपी

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top