Home / News / अमेरिका, कनाडा में प्रवासी डॉक्टर कर रहे छोटे-मोटे काम

अमेरिका, कनाडा में प्रवासी डॉक्टर कर रहे छोटे-मोटे काम

सुनने में थोड़ा अजीब लगेगा, लेकिन यह सच है. अमेरिका और कनाडा में कई डॉक्‍टर पिज्‍जा बेचने को मजबूर हैं. दरअसल, ‘रेजिडेंसी पोजीशन’ के अभाव में विदेशों से पढ़कर आए कई डॉक्टरों को ‘गुजर बसर’ करने के लिए यह काम करना पड़ रहा है. इनमें पिज्जा पहुंचाने से लेकर कैब की ड्राइवरी तक शामिल है. ये डॉक्‍टर चिकित्सा सेवा नहीं दे पा रहे हैं.

यह जानकारी एक अध्ययन में उभर कर सामने आई है. स्नातक मेडिकल प्रशिक्षण जिसके तहत किसी को भी शिक्षण अस्पताल में किसी सीनियर डॉक्‍टर के अधीन दो से पांच वर्ष तक काम कर मेडिकल की डिग्री लेनी होती है, के लिए रेजिडेंसी एक अनिवार्य स्तर है.

कनाडा के सेंट माइकेल्स अस्पताल में अनुसंधानकर्ता और पारिवारिक चिकित्सक आयशा लोफ्टर ने कहा, ‘कनाडा में रह रहे करीब 55 प्रतिशत अंतर्राष्ट्रीय चिकित्सा स्नातक इलाज का काम कर रहे हैं.’ आयशा ने ही अंतर्राष्ट्रीय चिकित्सा स्नातकों पर अपना अध्ययन किया है.

वर्ष 2011 में कनाडा के ओंटोरियो में 1800 आवेदनों में से 191 ही निवास स्पोट को पार कर सके.

उस वर्ष विदेश से चिकित्सा प्रशिक्षण लेने वाले कनाडाइयों के लिए सफलता का दर करीब 20 प्रतिशत रहा जबकि आव्रजित आईएमजी की सफलता का दर छह प्रतिशत रहा.

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top